ऐतिहासिक चंबा चौगान को दोबारा पार्किंग के लिए खोलने की मांग, व्यापार मंडल नप चंबा अध्यक्ष से मिला

चंबा, ( रेखा शर्मा ): ऐतिहासिक चंबा चौगान के भाग-3 में वाहनों को खड़ा करने पर प्रतिबंध लगाने से शहर में एक बार फिर से चोपहियां वाहन पार्किंग समस्या ने विकराल रूप धारण कर लिया है। इस समस्या को लेकर बुधवार नगर परिषद अध्यक्ष चंबा नीलम नैयर के साथ जिला व्यापार मंडल चंबा के प्रधान विरेंद्र महाजन की अगुवाई में व्यापारियों के प्रतिनिधि मंडल ने मुलाकात की।

 

व्यापारियों ने कहा कि चौगान भाग-3 में जिस प्रकार से बिना किसी शुल्क के वाहनों को खड़ा करने की अस्थाई सुविधा मुहैया करवाई गई थी उसके बंद होने से अब लोगों को भारी परेशानी पेश आ रही है। वाहन मालिकों को हर दिन चालन कटने की प्रक्रिया का सामना करने के लिए मजबूर होना पड़ रहा है।

 

 

बैठक की अध्यक्षता करते हुए नगर परिषद अध्यक्ष चंबा नीलम नैयर ने कहा कि जनहित को ध्यान में रखते हुए नगर परिषद चंबा ने बगैर किसी शुल्क के वाहनों को खड़ा करने की सुविधा मुहैया करवाई थी लेकिन देखने में आया कि कई वाहन मालिकों ने अपने वाहनों को स्थाई रूप से इसमें खड़ा कर रखा है।

 

यही नहीं कई वाहन मालिक अव्यवस्थित रूप से वाहनों को खड़ा करके दूसरों के लिए परेशानी पैदा कर रहें थे। कई बार तो रोगियों को लेकर आए निजी वाहनों तक को खड़ा करने की सुविधा नहीं मिल पा रही थी। कई बार नगर परिषद के पास वाहनों को खड़ा करने के एवज में शुल्क वसूलने तक की शिकायतें आई। इन तमाम बातों को ध्यान में रखते हुए और उच्च न्यायालय के आदेश पर अमलीजामा पहनाते हुए चौगान भाग-3 को वाहनों को खड़ा करने के लिए प्रतिबन्धित किया गया है।

 

ये भी पढ़ें: आज से जिला में यहां-यहां बिजली रहेगी गुल।

 

 

उन्होंने कहा कि व्यापार मंडल ने बैठक में यह सुझाव दिया है कि इस चौगान भाग को फिर से वाहनों को खड़ा करने के लिए खोला जाए। नैयर ने कहा कि फिलहाल नगर परिषद चंबा की ई.ओ.बाहर है जैसे ही वह आती है तो इस पर बात की जाएगी। व्यापार मंडल अध्यक्ष चंबा विरेंद्र महाजन ने कहा कि आज की बैठक सार्थक माहौल में आयोजित हुई है। नगर परिषद चंबा ने आश्वासन दिया है कि वह जल्द इस दिशा में प्रभावी कदम उठाएगी। उन्होंने कहा कि इस मामले को लेकर जिला प्रशासन से भी व्यापार मंडल मुलाकात करेगा।

 

ये भी पढ़ें: जिला में चरस संग एक गिरफ्तार।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *