जिला चंबा में रोड सेफ्टी काे प्रभावी बनाने में युवाओं का सहयोग बेहद जरूरी: जगवीर सिंह

Road Safety Chamba

Road Safety Chamba राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय मेल के स्कूली बच्चे पुलिस थाना डलहौजी पहुंचे। वहां कार्यरत पुलिस कर्मियों से सवाल पूछे। अध्यापकों की अगुवाई में शैक्षणिक भ्रमण के तहत स्कूली बच्चों ने विभिन्न कानूनों बारे जानकारी प्राप्त की

बनीखेत, ( रणजीत ): राजकीय मिडिल स्कूल मेल के बच्चों ने डल्हौजी पुलिस थाना पहुंच कर विभिन्न कानून बारे जानकारी हासिल की। स्कूल के छठी से आठवीं कक्षा में बच्चे इस शैक्षणिक भ्रमण में शामिल रहे। इन स्कूली बच्चों ने पुलिस कार्यवाही बारे भी जानकारी हासिल की।

यातायात कानून बारे बताया

स्कूली बच्चों को संबोधित करते हुए पुलिस थाना प्रभारी डल्हौजी ने यातायात कानून बारे में भी बताया। उन्होंने कहा कि वाहन चालक लाइसेंस के बगैर वाहन चलाना गैरकानूनी है और साथ ही जब भी वाहन चलाए तो दोपहिया वाहन चालक हेलमेट अवश्य पहने। चौपहिया वाहन चालक और गाड़ी में सवार लोग सीट बेल्ट अवश्य पहने।

युवा पीढ़ी एक जिम्मेदार नागरिक बने

पुलिस थाना प्रभारी ने कहा कि यह सभी उपाय वाहन चालक व वाहन में सवार व्यक्ति की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए किए गए है। उन्होंने कहा कि आज प्रत्येक कानून के बारे में सोशल मीडिया के माध्यम से जानकारी हासिल की जा सकती है। ऐसे में बेहतर है कि युवा पीढ़ी एक जिम्मेदार नागरिक बने और कानून के दायरे में रहते हुए अपने कार्यों को अंजाम दे।

युवा पीढ़ी के लिए नशा सबसे बड़ी चुनौती

उन्होंने कहा कि आज की युवा पीढ़ी के लिए नशा सबसे बड़ी चुनौती बनकर खड़ी है। कई परिवार नशे की भेंट चढ़ गए। उन्होंने कहा कि आए दिन हिमाचल व जिला चंबा में नशे की खेप पकड़ी जाती है। आज के दौर में किसी भी देश की असली ताकत उसकी युवा पीढ़ी है और भारत विश्व का सबसे युवा देश है। यही वजह है कि देश के दुश्मन चाहे वे विदेशों में रहते हैं या हमारे देश के भीतर मौजूद हैं वे देश की युवा पीढ़ी को नशे के जाल में फंसाने में प्रयासरत है।

ये भी पढ़ें: लाहड़ी लिंक रोड का भूमि पूजन में बोले कुलदीप पठानिया।

Road Safety Chamba

स्कूल बच्चे पुलिस कर्मियों के साथ सामूहिक चित्र में

संदिग्ध गतिविधियों पर नज़र रखे: जगवीर सिंह

जगवीर सिंह ने कहा कि ऐसे में हम सब को एक जिम्मेवार नागरिक भूमिका निभाते हुए अपने क्षेत्र व आसपास की संदिग्ध गतिविधियों पर नज़र रखे और उनके बारे में पुलिस को समय पर सूचित करे। ताकि पुलिस किसी भी आपराधिक घटना पर समय रहते काबू पाने में सफल हो सके। उन्होंने कहा कि कहीं भी कोई भी संदिग्ध व्यक्ति नजर आए तो अपने नजदीक के पुलिस थाना या चौकी अथवा 100 नंबर पर सूचित करे। स्कूली बच्चों के साथ भाषा अध्यापिका निशा रानी, डीएम सुनील कुमार व वोकेशनल अध्यापक विजय कुमार शामिल रहे।

ये भी पढ़ें: कर्मचारियों ने जमकर नारेबाजी की।

Related Posts