विधायक बेटे ने अपनी मां चंचल नैयर को मुखाग्नि दी,हजारों में जुटी भीड़ ने अंतिम विदाई दी

विधायक बेटे ने अपनी मां को मुखाग्नि दी तो हजारों की संख्या में लोगों ने चंचल नैयर की शव यात्रा में शामिल होकर भावभिनी श्रद्धांजली दी। चंबा की शमशान भूमि भगौत में अंतिम संस्कार किया गया।

चंबा,( विनोद ): बुधवार को चंचल नैयर का अंतिम संस्कार विधायक बेटे नीरज नैयर के हाथों हुआ। अंतिम संस्कार की प्रक्रिया चंबा के शमशान घाट भगौत में पूरा किया गया। चंचल नैयर के बड़े बेटे धीरज नैयर जो कि अमेरिका की सबसे बड़ी कंस्लटेंट कंपनी बोस्टन में कार्यरत है वह इस अंतिम संस्कार में नहीं पहुंच सके जिस वजह से विधायक बेटे ने मां को मुखाग्नि दी।

 

बताया जा रहा है अगले दो-चार दिन में धीरज नैयर भी चंबा पहुंच रहे हैं। चंचल नैयर की बेटी व दामाद मंगलवार को ही चंबा पहुंच गए थे तो साथ ही चंचल नैयर की बहू भारती नैयर के मायके से सभी उनके साथ ही मंगलवार को चंबा आ गए थे। बुधवार की सुबह चंचल नैयर के पार्थिक शरीर को उनके जुलाहकड़ी स्थित नैयर निवास से शमशाम भूमि भगौत में अंतिम संस्कार को ले जाया गया।

 

शव यात्रा में ये लोग शामिल रहे

शव यात्रा में हजारों की संख्या में लोगों की भीड़ अपनी बीबीजी को अंतिम विदाई देने को उमड़ी। कांग्रेस पार्टी के नेताओं व कार्यकर्ताओं में जिला कांग्रेस अध्यक्ष कमल ठाकुर, ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष चंबा करतार ठाकुर सहित चुराह के कांग्रेस प्रत्याशी रहे यशवंत खन्ना इसमें शामिल हुए तो चंबा के पूर्व भाजपा विधायक पवन नैयर, जिला भाजपा अध्यक्ष धीरज नरयाल व जिला भाजपा अनुसूचित जनजाति मोर्चा अध्यक्ष सी.एल.ठाकुर व पूर्व भाजपा मंडलाध्यक्ष चंबा विनोद कुमार सहित अन्य मौजूद रहे।

 

ये भी पढ़ें:  भाजपा महिला मोर्चा ने इसके लिए कहा धन्यवाद।

 

बताया जाता है कि विधानसभा सत्र के चलते मुख्यमंत्री सुखविंद्र सुक्खू व्यवस्था के कारणवश इसमें शामिल नहीं हाे पाए लेकिन जल्द ही चंबा का रूख करके नैयर परिवार से मुलाकात कर सकते है। आने वाले दिनों में हिमाचल के कई कैबिनेट मंत्री चंबा का रूख करने की संभावनाएं जताई जा रही हैं।

 

ये भी पढ़ें: गरीबों ने प्यास से दिया था बीबीजी का नाम।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *