ऐसे अधिकारियों-कर्मचारियों के खिलाफ दंडात्मक कार्यवाही की व्यवस्था का होगा प्रावधान,विधानसभा अध्यक्ष बोले

चंबा, ( विनोद ): हिमाचल विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि ऐसे अधिकारियों-कर्मचारियों के खिलाफ दंडात्मक कार्यवाही की व्यवस्था का होगा प्रावधान जो आवश्यक सेवाओं की उपलब्धता में कोताही बरतते है। उन्होंने कहा कि सदन के माध्यम से आवश्यक सेवाएं अधिनियम के प्रावधानों को और अधिक प्रभावी बनाया जाएगा।

 

कि सदन के माध्यम से आवश्यक सेवाएं अधिनियम के प्रावधानों को और अधिक प्रभावी बनाया जाएगा।

उन्होंने कहा कि इसमें विद्युत व पेयजल जैसी आवश्यक सेवाओं की उपलब्धता में कोताही बरतने वाले अधिकारियों और कर्मचारियों के खिलाफ दंडात्मक कार्यवाही की व्यवस्था का प्रावधान किया जाएगा। हिमाचल विधानसभा अध्यक्ष कुलदीप सिंह पठानिया ने गरनोटा स्कूल के वार्षिक समारोह में संबोधित करते हुए यह बड़ी बात कही।

 

ये भी पढ़ें: जिला चंबा में अवैध कटान का मामला दर्ज।

 

पठानिया ने कहा कि नये प्रावधानों में यह भी सुनिश्चित बनाया जाएगा कि आवश्यक सेवाओं की उपब्धता में कोताही बरतने वाले अधिकारियों व कर्मचारियों के खिलाफ दंडात्मक कार्यवाही हो। पठानिया ने अपने संबोधन में कहा कि भटियात विधानसभा क्षेत्र के तहत विभिन्न विभागीय कार्यालयों को खोलने की दिशा में प्रभावी कदम उठाए जाएंगे।

 

ये भी पढ़ें: चरस के साथ तीन लोग धरे।

 

लोगों को भरोसा देते हुए पठानिया ने कहा कि लोक निर्माण  विभाग, जल शक्ति विभाग, सब जज कोर्ट और वन विभाग के मंडल स्तरीय कार्यालय जल्द खोले जाएंगे। अपने चुनाव क्षेत्र भटियात के दायरे में आने वाली सरकारी ITI गरनोटा में जल्द चार नये ट्रेड शुरू करने की भी उन्होंने अपनी बात कही। राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला गरनोटा में विज्ञान और वाणिज्य संकाय की कक्षाएं जल्द शुरू करने की घोषणा भी की।

 

 

ये भी पढ़ें:  विजिलेंस ने कसा शिकंजा।

 

इस मौके पर विधानसभा स्पीकर ने भटियात क्षेत्र में चल रहें विभिन्न विकास कार्यों का उल्लेख किया जिसमें गरनोटा से भुन्ट संपर्क सड़क पर 2 करोड 91 लाख, थकोटी से डुंगरू संपर्क मार्ग पर एक करोड़ 95 लाख, ढुढराला से नलोह संपर्क मार्ग पर एक करोड़ 97 लाख का कार्य शामिल रहा। 1 करोड़ की लागत से निर्मित होने वाले सब ट्रेजरी भवन सिहुंता का निर्माण कार्यों को जल्द पूर्ण करने, लांगी से दरूनी संपर्क मार्ग पर दो करोड 30 लाख, संपर्क मार्ग से गांव नाहना 1 करोड़ 28 लाख, मनी से टिक्करी संपर्क मार्ग पर 20 लाख, डेन्था से जोलना संपर्क मार्ग पर 11 लाख, जोलना से भटेड -कोलंद संपर्क मार्ग पर 2 करोड 21 लाख, ड़डामण से भटेड बासा पर 1 करोड़ 43 लाख, कियोड़ से मलवाड़ पर लगभग 3 करोड रुपए व्यय किए जाने की बात कही।

 

ये भी पढ़ें: आग की भेंट चढ़ी दुकान, लाखों का जला सामान।

 

उन्होंने यह भी कहा कि राजकीय महाविद्यालय सिहुंता के भवन निर्माण पर 7 करोड़ 42 लाख रुपए खर्च किए जाएंगे। इसी तरह समोट से मंहोता संपर्क सड़क पर 3 करोड़ 80 लाख, बलाना से गोला संपर्क मार्ग पर 6 करोड 29 लाख व्यय होंगे। जल शक्ति विभाग के तहत किए जा रहे कार्यों का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि जल जीवन मिशन और नाबार्ड से स्वीकृत 13 पंचायतों के लिए उठाऊ पेयजल योजना पर 18 करोड 34 लाख रुपये व्यय किए जाएंगे। इससे लगभग 17 हजार की आबादी लाभान्वित होगी। बहाव सिंचाई योजना खग्गल-सिन्हुता के रिमोल्डिंग कार्य पर 5 करोड़ 41 लाख व्यय करने का प्रावधान रखा गया है।

 

ये भी पढ़ें: विजिलेंस का छापा, सरकारी राशन का ट्रक पकड़ा।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *